पत्नी की न्यूड फोटो इंटरनेट पर अपलोड करने वाले पति की अग्रिम जमानत याचिका खारिज

पत्नी की न्यूड फोटो को इंटरनेट में अपलोड करके बदनाम करने वाले पति की अग्रिम जमानत को कोर्ट ने खारिज कर दिया।

हिमांचल प्रदेश हाईकोर्ट ने अपनी पत्नी को प्रताड़ित करने और उसकी अश्लील फोटो को इंटरनेट पर अपलोड करने के मामले में
आरोपी पति की अग्रिम जमानत (interim bail) की याचिका (petition) खारिज कर दी है।

पूरे प्रकरण में लिप्त चार आरोपियों ने हाई कोर्ट का रुख किया जिनमें से आरोपी के पिता,माँ, बहन की जमानत मंजूरी दे दी गई है

लेकिन आरोपी की अग्रिम जमानत को सिरे से खारिज कर दिया गया है।

पीड़ित पत्नी का बयान- 

पीड़िता द्वारा दर्ज प्राथमिकी में उसने बताया है कि शादी के एक महीने बाद से ही उसका पति उसे दहेज के लिए परेशान करता और मारता पीटता था। 

पति के इस अमानवीय आचरण के कारण उसने एक माह बाद ही अपना ससुराल छोड़ कर अपने घर आ गई । 

कुछ दिनों बाद पति पीड़ित पत्नी के पास अपनी ससुराल पहुँचा और उससे अपने इस व्यवहार के लिए माफी मांगी और कहा कि
वह अपने इस व्यवहार में बदलाव लाएगा।

इस बात पर पीड़िता अपने पति के साथ ससुराल पहुँची दोबारा से पति ने उसे धमकी देते हुए मारना पीटना शुरू कर दिया ।

अपनी पत्नी का शाररिक उत्पीड़न करने के साथ ब्लैकमेल करने के लिए पत्नी की अश्लील फोटो  खिंची और
सोशल मीडिया फेसबुक पर फर्जी आई डी बना कर उस पर अपलोड कर दी। 

पति द्वारा किये गए इस घिनौने कार्य से परेशान पत्नी ने हिमांचल प्रदेश हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया

हाई कोर्ट का प्रतिक्रिया- पूरे मामले को संज्ञान में लेने के बाद हाई कोर्ट के जस्टिस विवेक ठाकुर ने कहा कि पति और पत्नी अटूट सम्बन्ध विश्वास पर आधारित हैं। 

और उसने अपनी पत्नी की अश्लील फोटो को इंटरनेट पर अपलोड करने पत्नी के विश्वास का हनन किया है आरोपी पति के खिलाफ
आईपीसी की धारा 504,498 (ए),34 ,67,67(ई) के तहत मुकदमा पंजीकृत कृत है।

कोर्ट के न्यायाधीश ने यह भी कहा कि इस तरह का कार्य पीड़ित के स्वस्थ्य , मन, आत्मा को भी आहत करता है। 

इसलिए किसी भी तरह से आरोपी अभिषेक मंगला को अग्रिम जमानत नही दी जा सकती।

Download Law Trend App

Law Trendhttps://lawtrend.in/
Legal News Website Providing Latest Judgments of Supreme Court and High Court

Related Articles

Latest Articles