ओवरएज हुए दरोगा भर्ती के अभ्यर्थियों को इलाहाबाद हाई कोर्ट से राहत

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने दरोगा भर्ती 2021 में उन उम्मीदवारों को राहत दी है जो 28 वर्ष की आयु पार हो जाने के चलते आयोग्य थे। कोर्ट ने उनके आवेदन स्वीकार करने का निर्देश दिया है। जस्टिस जेजे मुनीर ने सुशील कुमार एंव अन्य की याचिका पर उपरोक्त आदेश पारित किया है। 

कोर्ट ने पुलिस भर्ती बोर्ड को निर्देश दिया है कि ऐसे याचियों जिनकी उम्र एक जुलाई 2018 को 28 वर्ष से अधिक नही है। उनके आवेदन पर अंतिम रूप स्वीकार किये जायें। साथ ही यह भी कहा कि ऐसे सभी अभ्यर्थियों का अंतिम परिणाम कोर्ट की अनुमति बगैर घोषित नही किया जाएगा।

दाखिल याचिका के मुताबिक उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती बोर्ड ने फरवरी 2021 में उपनिरीक्षक नागरिक पुलिस प्लाटून कमांडर एंव अग्निशमन सेवा अधिकारी के 9534 पद विज्ञापित किये थे। इसके लिए आवेदन की अंतिम तिथि पहले 30 अप्रैल थी। जिसे बढ़ाकर 15 जून कर दिया गया है। याचिका में कहा गया है कि वर्ष 2016 के पश्चात यह पहली भर्ती थी। जबकि राज्य सरकार ने वर्ष 2017 में प्रत्येक वर्ष 3000 पदों की भर्ती प्रक्रिया पूर्ण कराने का आश्वासन दिया था।

कहा गया है कि आश्वासन का अनुपालन नही करने से कई योग्य अभ्यार्थी आयुसीमा पार करने के कारण आयोग्य हो गए हैं। सुप्रीम कोर्ट ने ऐसी ही परिस्थितियों में पुलिस आरक्षी भर्ती 2018 में उम्मीदवारों को को आयुसीमा में छूट प्रदान की थी। ऐसे में याचियों को भी आयुसीमा में छूट देते हुए उन्हें भर्ती प्रक्रिया में शामिल करने का निर्देश दिया जाय। राज्य सरकार की तरफ से कहा गया कि भर्ती प्रक्रिया में शासन की ओर से कोई देरी नही है। क्योंकि 2016 के विज्ञापन से संबंधित विवाद का निस्तारण हाई कोर्ट ने 11 सितंबर 2019 को किया था। और अभी भी मामला सुप्रीम कोर्ट के समक्ष लंबित है। इस पर याचियों की तरफ से कहा गया कि वह विवाद वर्ष 2016 की भर्ती से जुड़ा हुआ है। और वर्ष 2017 से 2020 तक भर्ती के आयोजन पर कोई रोक नही है।

DOWNLOAD ORDER

Law Trendhttps://lawtrend.in/
Legal News Website Providing Latest Judgments of Supreme Court and High Court

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles