बच्चों से छेड़छाड़ के आरोपी बस ड्रावर की जमानत याचिका खारिजः इलाहाबाद High Court

हाल ही में इलाहाबाद High Court लखनऊ में एक आरोपी ड्राइवर स्कूल द्वारा जमानत याचिका दायर की गई थी, जिसके खिलाफ पोस्को अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

माननीय श्री न्यायमूर्ति डी.के. सिंह ने अपराध की जघन्यता और आरोपी के संबंधों को देखते हुए अभियुक्त की जमानत याचिका खारिज कर दी है।

अभियुक्त द्वारा धारा 439 सी.आर.पी.सी के तहत एक आवेदन इलाहाबाद उच्च न्यायालय लखनऊ में दायर की गयी। अभियुक्त के खिलाफ धारा 354 (2), 377, 504 आईपीसी 7/8 पोसको एक्ट, के अन्तर्गत पुलिस स्टेशन बजरखला, लखनऊ में एफआईआर दर्ज है।

आरोपी-आवेदक बाबा टूर एंड ट्रैवल्स से संबंधित स्कूल वैन का ड्राइवर था। लगभग 5-6 वर्ष की आयु के स्कूली बच्चों ने अपने माता-पिता से आरोपी आवेदक के कुकर्माें के बारे में शिकायत की थी।

लगभग 5 साल की उम्र की पीड़िता में से एक ने अपनी मां को बताया कि आरोपी-आवेदक वैन में यात्रा कर रहे छात्रों को अश्लील वीडियो दिखाता था और जब छात्रों को आपत्ति होती थी, तो वह उन्हें लाइटर से जला देता था। वह उन्हें अनुचित तरीके से छूता भी था।

एक अन्य पीड़िता जिसका बयान धारा 164 सीआरपीसी के तहत दर्ज किया गया था, ने बयान में मजिस्ट्रेट के सामने कहा है कि आरोपी आवेदक बच्चों के शरीर में करंट पास करता था।

इलाहाबाद उच्च न्यायालय लखनऊ के माननीय श्री न्यायमूर्ति डी.के. सिंह जी ने अपराध की जघन्यता, पीड़ितों की कोमल आयु और आरोपी-आवेदक के संबंधों पर विचार करने के बाद पाया कि यह जमानत देने के लिए उचित मामला नहीं है, इसलिए आरोपी-आवेदक को कारागार से बाहर आने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए।

इसके मद्देनजर, हाईकोर्ट ने अभियुक्त द्वारा दाखिल जमानत याचिका को खारिज कर दिया गया

Case Details:-

Title:- Nirijesh (Second Bail) vs State of U.P.

Case No.- BAIL No. – 6497 of 2020

Date Of Order:-  22.09.2020

Quorum : Hon’ble Mr. Justice D.K. Singh

Advocates :– Ms. Anita for Applicant and GA for Respondent

Download Law Trend App

Law Trendhttps://lawtrend.in/
Legal News Website Providing Latest Judgments of Supreme Court and High Court

Related Articles

Latest Articles