किसान आंदोलन का दिल्ली हिंसा में तब्दील होने को लेकर शशि थरूर समेत 8 लोगों पर FIR दर्ज

गणतंत्र दिवस वाले दिन हुई देश को शर्मसार करने वाली वारदात दिल्ली हिंसा पर पुलिस प्रशासन सतर्कता बरतते हुए इस हिंसा में शामिल लोगों की तलाश में जुट गई है। इसी को लेकर नोएडा पुलिस ने गलत खबर फैलाने और उसके प्राकशित को लेकर कांग्रेस नेता शशि थरूर समेत 8 लोगों पर एफआईआर (FIR) दर्ज करवाई है। 

सोशल मीडिया और अन्य माध्यमों द्वारा गलत खबर फैलाने पर नोएडा पुलिस ने सेक्टर 20 पुलिस स्टेशन पर जाने माने न्यूज़ एंकर राजदीप सरदेसाई, काँग्रेस नेता शशि थरूर ,मृणाल पांडेय समेत अन्य आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 153A,153B,295A की धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है। इस प्रकरण की जांच दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल करेगी। 

एफआईआर (FIR)-

नोएडा सेक्टर 20 में दर्ज एफआईआर के अनुसार आरोपियों पर आरोप है कि इन्होंने सुनियोजित तरीके से दिल्ली हिंसा भड़काने का कार्य किया है ।और ऐतिहासिक धरोहर लाल किले को क्षति पहुँचाने के लिए इन्होंने ही गलत खबर के प्रकाशन से शांतिप्रिय प्रदर्शन को उग्र और हिंसा का रूप दे दिया। आगे लिखा है कि इन लोगों ने जानबूझकर दुर्भावनापूर्ण, अपमानजनक गुमराह करने और उकसाने वाली खबरों को प्रसारित की और अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया की पुलिस द्वारा आंदोलनकारी एक ट्रैक्टर चालक की हत्या कर दी।

Also Read

जिसके पश्चात आंदोलनकारियों ने उग्र रूप लेते हुए पुलिस पर पथराव और हमला किया जिसमें तमाम पुलिस वाले घायल हुए। उपरोक्त अभियुक्तगण द्वारा पारस्परिक सहयोग और एक सुनियोजित सडयंत्र के तहत गलत जानकारी प्रसारित की कि एक आंदोलनकारी को पुलिस ने गोली मार दी। जिसकी साफ मंशा है कि बड़े पैमाने में दंगा हो और विभिन्न समुदायों के मध्य तनाव उत्पन्न हो।

Law Trendhttps://lawtrend.in/
Legal News Website Providing Latest Judgments of Supreme Court and High Court

Related Articles

Latest Articles