फर्ज़ी कागज़ातों के बुनियाद पर हाई कोर्ट से ले ली ज़मानत, क्राइम ब्रांच का चौंकाने वाला ख़ुलासा

दरअसल, यह मामला तब सामने आया जब क्राइम ब्रांच ने, एक ऐसे गिरोह को पकड़ा, जो जमानत के लिए फर्ज़ी कागज़ात बनाते थे। दरअसल, इस रैकेट में नकली वकील, मुंशी यहां तक की नकली थाने की मुहरें तक भी शामिल है। यह गैंग औरैया और कानपुर में सबसे ज़्यादा एक्टिव थे। कुछ दिन पहले ही क्राइम ब्रांच ने कानपुर के एक ऐसे गैंग को भी पकड़ा है। आइये इस मामलें को थोड़ा और विस्तार से जानते है। 

शुरुआती जांच से पता चला है कि इस गैंग द्वारा, अब तक 100 से ज़्यादा अपराधियों की ज़मानत, नकली कागज़ातों के आधार पर करवा चुके है। उससे भी ज़्यादा हैरान कर देने वाली बात यह है कि इन सभी में से 45 अपराधिओं की जमानत, इलाहाबाद हाई कोर्ट में हुयी है। क्राइम ब्रांच के मुताबिक, इस फर्ज़ीवाड़े में कुछ सरकारी वकील भी शामिल है। 

क्राइम ब्रांच ने, इन सभी अपराधियों के नाम की सूची प्राप्त कर ली है। इसके अलावा वह इन सभी मुजरिमों के जमानत के कागज़ात और मुकदमें की डिटेल्स प्राप्त करने की कोशिश में लगे हुए है। जैसे ही इन सभी अपराधिओं के खिलाफ़ पुख़्ता सबूत मिल जाते है, वैसे उन सबके ज़मानत रद्द कर दी जाएगी। 

Law Trendhttps://lawtrend.in/
Legal News Website Providing Latest Judgments of Supreme Court and High Court

Related Articles

Latest Articles