ज़िला जज कोरोना पॉजिटिव, हॉस्पिटल में कोई व्यवस्था नहीं, एफआईआर दर्ज

उत्तरप्रदेश-कोरोना की दूसरी लहर ने विकराल रूप ले लिया है अभी हाल ही में हाई कोर्ट के दो जजों और एक पेशकार में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी उसके बाद यह सिलसिला बदस्तूर जारी है।

अभी तक देश के सैकड़ों की तादाद में न्यायिक कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव हो चुके है इसी कड़ी में कानपुर नगर के जिला जज के कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है, जिसके बाद उन्हें नारायणा कोविड हॉस्पिटल में सूचना देकर उन्हें भर्ती करवाने के लिए ले जाया गया,अस्पताल की हीलाहवाली और लचर व्यवस्था को देखते हुए सीएमओ ने अस्पताल के खिलाफ महामारी एक्ट और लापरवाही बरते जाने पर एफआईआर दर्ज करवाई है।

एफआईआर के मुताबिक नारायणा कोविड हॉस्पिटल को जिला जज में कोरोना संक्रमण होने की सूचना देने के बाद जज को अस्पताल ले जाया गया साथ मे सीएमएम भी थे।जब न्यायाधीश अस्पताल पहुँचे तो वहां के अधिकतर कर्मचारी नदारद दिखे।

लिफ्ट से हॉस्पिटल की ऊपरी मंजिल में न्यायाधीश को ले जाते वक्त लिफ्ट खराब हो गई काफी देर बाद जब लिफ्ट से बाहर निकले तो कोई भी डॉक्टर मरीज को देखने के लिए मौजूद नही था।न हो कोई डॉक्टर जिला जज को अटेंड करने आया। जिस कारण जिला जज को कोई विशेष उपचार नही मिल सका।

इस प्रकार नारायणा हॉस्पिटल द्वारा महामारी के दौरान लापरवाही बरते जाने और जिला न्यायाधीश को उचित उपचार न उपलब्ध कराए जाने पर कानपुर सीएमओ ने अस्पताल के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है।

Download Law Trend App

Law Trendhttps://lawtrend.in/
Legal News Website Providing Latest Judgments of Supreme Court and High Court

Related Articles

Latest Articles