दिल्ली हाई कोर्ट ने क्यूँ कहा- ये यूपी में चलेगा यहाँ नहीं

दिल्ली हाई कोर्ट ने परिजनों की मर्जी के खिलाफ शादी करने के मामले में महिला के पति के भाई और पिता को यूपी पुलिस द्वारा गिरफ्तार करने पर पुलिस को फटकार लगाई है।

यूपी पुलिस को फटकार लगाते हुए दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा कि यहां दिल्ली में इसकी इजाजत नहीं दी जाएगी, आप यहां अवैध काम नहीं कर सकते।

Advertisements

Advertisement

हाईकोर्ट ने यूपी पुलिस को फटकार लगाते हुए कहा कि कोई आपके पास शिकायत लेकर आता है और बिना उम्र जाने लोगों को गिरफ्तार करने चला जाता है, चाहे वे वयस्क हों या नाबालिग।

‘दिल्ली में नहीं चलेगा ये काम’

दंपती की सुनवाई के दौरान जस्टिस मुक्ता गुप्ता की बेंच ने यूपी पुलिस की ओर से कोर्ट में पेश हुए पुलिस अफसर को फटकार लगाई. कोर्ट ने कहा कि दिल्ली में यह काम नहीं होगा. “आप आए और दिल्ली से लोगों को ले गए और शामली से गिरफ्तारी दिखाई।

अदालत ने कहा कि हम इसे यहां नहीं होने देंगे, यह दिल्ली में काम नहीं करेगा, यह अवैध कार्रवाई है कि आप दिल्ली आते हैं और लोगों को उठाते हैं और फिर शामली से गिरफ्तारी दिखाओ। हम यहां इसकी इजाजत नहीं देंगे।”

Also Read

‘जब आप जांच करेंगे तो शिकायतकर्ता से नहीं पूछेंगे’?

दिल्ली हाई कोर्ट ने कहा कि जब आप जांच करेंगे तो शिकायतकर्ता से नहीं पूछेंगे? हाईकोर्ट ने कहा कि अगर शामली पुलिस उन्हें गिरफ्तार करने दिल्ली आई है तो हम सीसीटीवी फुटेज देखेंगे।

हम सुनिश्चित करेंगे कि आपके खिलाफ विभागीय जांच हो। हाईकोर्ट ने फटकार लगाते हुए कहा कि अगर एसएचओ और आईओ जांच करना नहीं जानते तो हमारे पास कोई हल नहीं है, आपको कम से कम घरवालों से तो पूछना चाहिए था।

शादी के खिलाफ हैं महिला के माता-पिता

दिल्ली उच्च न्यायालय में दायर एक याचिका में, एक जोड़े ने कहा कि उन्होंने 1 जुलाई, 2021 को अपने दम पर शादी की। महिला के माता-पिता शादी के खिलाफ हैं और उन पर बार-बार धमकी देने का आरोप लगाया गया है। दंपति के पिता और भाई को यूपी पुलिस 6 और 7 अगस्त की दरम्यानी रात को उनके आवास से ले गई और उनके ठिकाने का पता नहीं चल पाया है।

Law Trendhttps://lawtrend.in/
Legal News Website Providing Latest Judgments of Supreme Court and High Court

Related Articles

Latest Articles