मुजफ्फरपुर हत्याकांड में 6 वर्षों से गवाहों की पेशी न होने पर कोर्ट ने नाराजगी जताई

बिहार—– मुजफ्फरपुर अपर जिला एंव सत्र न्यायाधीश ने कहा कि हत्या जैसे जघन्य मामलों के अभियोजन में शिथिलता बरती जा रही। 6-6 सालों से गवाहों की पेशी नही हो रही। यहाँ तक कि पिछली तीन सुनवाई में कोर्ट में सरकार का कोई पक्ष रखने के लिए उपस्थित नही हुआ इस बात पर कड़ी नाराजगी जाहिर की है। साथ ही डीएम और एसएसपी को लेटर भेजकर सुनवाई की अगली तारीख में सूचक की उपस्थिति सुनिश्चित कराने को कहा है। 

पूरा मामला सकरा थाना क्षेत्र का है। साल 2004 के हत्या के मामले में दो व्यक्ति अभियुक्त हैं। पिछली 3 सुनवाई में सरकार की ओर से पक्ष नही रखा गया। जारी आदेश में एडीजे 11 ने कहा कि इस मामले में 22 जुलाई 2015 को अभियोजन पक्ष ने गवाह पेश किया था।

इसके उपरांत चार्जशीट में अंकित कोई भी गवाह या सूचक को उपस्थित नही कराया जा सका। कांड के सूचक के खिलाफ गैर जमानतीय वारंट जारी किया। लेकिन इस पर भी कार्यवाई न करने से मामले के ट्रायल में बाधा आ रही है। एपीपी को आदेश दिया गया है कि अगली सुनवाई को गवाह को पेश करें।

Download Law Trend App

Law Trendhttps://lawtrend.in/
Legal News Website Providing Latest Judgments of Supreme Court and High Court

Related Articles

Latest Articles