CJI ने बताया उनके पुत्र ने लड़ा है एसपी ग्रुप की कंपनी का केस

CJI शरद अरविंद बोबड़े ने टाटा मिस्त्री केस की सुनवाई के दौरान कहा कि उनके बेटे श्री निवास बोवड़े ने झुग्गी पुनर्विकास मामले में लगभग 2 वर्ष के लिए शापुरजी पालोनजी एसपी ग्रुप की कंपनी का प्रतिनिधतव्य किया है।

सुप्रीम कोर्ट अपीलीय न्यायाधिकरण एनसीएलएटी के आदेश के खिलाफ टाटा संस और साइरस इन्वेस्टमेंट की अपीलों की सुनवाई कर रही थी। एनसीएलएटी ने साइरस मिस्त्री को टाटा एक्जीक्यूटिव चेयरमैन के पद पर बहाल कर दिया था।

Read Also

जस्टिस शरद बोबड़े, जस्टिस एएस बोपन्ना ,एवं जस्टिस वी रामासुब्रमण्यम की संयुक्त पीठ ने टाटा संस और साइरस ग्रुप की तरफ से पेश अधिवक्ताओं से पूछा कि उन्हें यह तथ्य उजागर होने पर किसी तरह की आपत्ति है। टाटा ग्रुप के पक्षकार अधिवक्ता हरीश साल्वे और एस पी ग्रुप की तरफ से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता सीए सुंदरम ने प्रतिक्रिया दी है उन्हें CJI क़ी पीठ द्वारा इस प्रकरण की सुनवाई करने पर किसी तरह की आपत्ति नही है।

टाटा ग्रुप के पक्षकार अधिवक्ता हरीश साल्वे ने कहा कि वह भी उसी मामले में पेश हुए थे। सी ए सुंदरम ने भी साल्वे से सहमति जताते हुए कहा कि वे सभी उस कंपनी या अन्य के लिए पेश हो चुके हैं और उन्हें इस बात पर आपत्ति नही है। इस बात पर सीजेआई शरद अरविंद बोबड़े ने कहा कि इन दिनों ऐसे मामले बाद में समस्या उत्पन्न करते हैं। बाद में सभी वकीलों की अनापत्ति को रिकॉर्ड पर दर्ज भी किया गया।

Download Law Trend App

Law Trendhttps://lawtrend.in/
Legal News Website Providing Latest Judgments of Supreme Court and High Court

Related Articles

Latest Articles