अजीत भारती के YouTube वीडियो पर एलएलबी की छात्रा ने अवमानना की कार्रवाई के लिए मांगी अटॉर्नी जनरल से अनुमति

हाल ही में भारत के अटॉर्नी जनरल, श्री के.के. वेणुगोपाल के समक्ष एक आवेदन दायर किया गया है और इसमें अनुमति मांगी गयी है की श्री अजीत भारती, जो की डिजिटल न्यूज़रूम डीओ पॉलिटिक्स के सह-संस्थापक है, उनके खिलाफ आपराधिक अवमानना की कार्यवाही शुरू की जाये।

डॉ. राम मनोहर लोहिया राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय, लखनऊ से विधि स्नातक की छात्रा कृतिका सिंह ने अटार्नी जनरल (एजी) को पत्र लिखकर श्री अजीत भारती के खिलाफ 24-06-2021 को प्रकाशित उनके YouTube वीडियो के लिए, जिसमे कीर्तिका के अनुसार भारतीय न्यायपालिका के लिए अपमानजनक और निंदनीय बाते है और विशेष रूप से भारत के सर्वोच्च न्यायालय और उसके माननीय न्यायाधीशों को गाली दी जारी है, अदालत की अवमानना ​​अधिनियम, 1971 के तहत आपराधिक अवमानना की  ​​कार्यवाही शुरू करने की अनुमति दी जाये।

कृतिका के अनुसार, श्री अजीत भारती ने वीडियो में भारतीय न्यायपालिका और उसके न्यायाधीशों के लिए अत्यधिक आक्रामक, अपमानजनक और भद्दे शब्दों का इस्तेमाल किया। उन्होंने भारतीय न्यायपालिका पर पक्षपात और कट्टरता का आरोप लगाया है। वीडियो में, उनका दावा है कि आम आदमी पूरी तरह से असहायता के कारण न्यायपालिका में विश्वास करता है क्योंकि उसके पास और कोई रास्ता नहीं है।

शिकायत के अनुसार उपरोक्त वीडियो में, श्री अजीत भारती ने न्यायपालिका पर  भ्रष्टाचार, भाई-भतीजावाद का आरोप लगाकर भारत के माननीय सर्वोच्च न्यायालय पर अत्यधिक अभद्र भाषा का उपयोग करते हुए हमला किया। आवेदक ने इस मामले में अनुमति लेने के लिए कुणाल कामरा के मामले का भी उदाहरण दिया है। 

Also Read

Law Trendhttps://lawtrend.in/
Legal News Website Providing Latest Judgments of Supreme Court and High Court

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles