भारत में ट्विटर को मिली कानूनी छूट हुई समाप्त, यूपी में पहली FIR दर्ज

नई दिल्ली-देश मे माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर को मिली कानूनी संरक्षण अब समाप्त हो गया है। ट्विटर को उक्त कानूनी संरक्षण आईटी एक्ट की धारा 79 के तहत मिला हुआ था। ये धारा ट्विटर को किसी भी कानूनी कार्यवाई मानहानि या जुर्माने से छूट प्रदान करता था। कानूनी संरक्षण खत्म होते ही ट्विटर के विरूद्ध पहला मामला यूपी के गाजियाबाद में दर्ज किया गया है।

ट्विटर के खिलाफ यह मामला बुजुर्ग के साथ मारपीट के बाद फर्जी वीडियो के वायरल होने के बाद दर्ज किया गया है। पुलिस ने इस मामले में ट्विटर के अलावा नौ लोगों पर भी केस दर्ज किया है। ट्विटर पर फर्जी वीडियो के माध्यम से धार्मिक भावनाओं को भड़काने का आरोप लगा है। 

Advertisements

Advertisement

आपको बताते चलें कि ट्विटर के कानूनी संरक्षण खत्म होने को लेकर केंद्र सरकार ने कोई भी आदेश जारी नही किया है। सरकार द्वारा बनाए गए नियम का पालन नही करने से ये कानूनी संरक्षण अपने आप समाप्त हुआ है। कानूनी संरक्षण 25 मई से खत्म माना गया है। 

Also Read

कानूनी संरक्षण खत्म होने के बाद ट्विटर ने कहा हम आईटी मंत्रालय को प्रक्रिया से अवगत करा रहे हैं। हमने अंतरिम मुख्य अनुपालन अधिकारी को बरकरार रखा है और इसका विवरण जल्द ही सीधे मंत्रालय के साथ साझा किया जाएगा। ट्विटर नए दिशानिर्देशों का पालन करने के लिए हर संभव कोशिश कर रहा है। 

Law Trendhttps://lawtrend.in/
Legal News Website Providing Latest Judgments of Supreme Court and High Court

Related Articles

Latest Articles