हाइकोर्ट से गैंगस्टर ने लगाई गुहार,कहा कि पुलिस हाथ पैर बांध कर ले जाए नही हो सकता विकास दुबे जैसा हाल

पंजाब हरियाण,राजस्थान समेत कई राज्यों में दहसत का पर्याय बन चुके लारेंस विश्नोई ने पंजाब और हरियाणा हाइकोर्ट कोर्ट से खौफजदा लारेंस विश्नोई ने गुहार लगाई है कि उसे चंडीगढ़ में पुलिस हाथ पांव बाँधकर ले जाय जिससे उसका विकाश दुबे की तरह एनकाउंटर न हो पाए। हाइकोर्ट ने इस मामले में यूटी को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

आपको बता दें कि कुख्यात अपराधी लारेंस विश्नोई ने हाइकोर्ट में याचिका दायर कर कहा है कि 31 मई 2020 को चंडीगढ़ पुलिस ने आर्म्स एक्ट समेत कई संगीन धाराओं में उसके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करी थी। इस मामले की जांच के लिए पुलिस उसे चंडीगढ़ ले जाना चाहती है। 

Read Also

वर्तमान में वह राजस्थान की अजमेर जेल में  क़ैद है। विश्नोई ने संदेह व्यक्त किया है कि जिस प्रकार यूपी की कानपुर पुलिस ने विकास दुबे को मुठभेड़ में मार गिराया था उसी प्रकार उसकी भी हत्या की जा सकती है। इसलिए उसे चंडीगढ़ लाते व वापस ले जाते हुए उसके हाथ पांव बाँधकर रखे जाएं ताकि पुलिस मनगढंत कहानी न साबित कर पाए की हथियार छीन कर भागने के प्रयास करते हुए एनकाउंटर कर दिया।

याची लारेंस ने कहा है कि आवश्यक हो तो वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये भी पूछताछ की जा सकती है। हाइकोर्ट ने इस संदर्भ में यूटी प्रशासन से पूछा है कि कैसे सुरक्षित तरह से विश्नोई को लाकर वापस भेजा जा सकता है। साथ ही वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के विकल्प पर भी जवाब मांगा है।

दरसअल लारेंस विश्नोई अभिनेता सलमान खान को धमकी देने के बाद सुर्खियों में आया था। हाल ही में हरियाणा सरकार ने लारेंस की एक याचिका पर हाइकोर्ट में अपना पक्ष रखा था। लारेंस ने हरियाणा पुलिस द्वारा प्रोडक्शन वारंट पर लाने जाने को एनकाउंटर का प्लान बताया था। इस पर पंजाब और हरियाणा हाइकोर्ट में दाखिल लारेंस की याचिका को हरियाणा सरकार ने जांच से बचने का तरीका बताया था।

Law Trendhttps://lawtrend.in/
Legal News Website Providing Latest Judgments of Supreme Court and High Court

Related Articles

Latest Articles