हजारो बेबस हिंदुओ का धर्मांतरण कराने वाला मौलाना यूपी एटीएस के हत्थे चढ़े

राजधानी—-यूपी एटीएस ने राजधानी लखनऊ में दो मौलानाओं को अरेस्ट कर धर्मांतरण के बड़े रैकेट का पर्दाफाश किया है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के जामिया से संचालित यह गिरोह शादी,रुपया, और नौकरी का लालच देकर बड़ी तादाद में हिंदुओं का धर्म परिवर्तन करवा चुके है। 

यूपी एटीएस के पास धर्मांतरण करा चुके एक हजार से अधिक लोगो की लिस्ट है। इनमे अधिकतर मूक बधिर, दिव्यांग, और महिलाएं शामिल है। इस रैकेट की फंडिंग विदेशों से होती थी और पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई का लिंक होने की बात सामने आ रही है। इसकी पड़ताल की जा रही है। गिरफ्तार किए गए दोनों आरोपियों का नाम मुफ्ती जहांगीर आलम और उमर गौतम है। इनमे से उमर स्वम धर्म बदलवाकर मुस्लिम बना था।

एडीजी लॉयन ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि दो जून को गाजियाबाद के डासना के एक मंदिर से दो संदिग्ध युवकों विपुल व काशिफ की गिरफ्तारी के बाद इस गिरोह का भंडाफोड़ हुआ। एटीएस ने पूरे मामले की छानबीन की। दोनों युवकों की निशानदेही पर जहांगीर और उमर गौतम को पूछताछ के लिए लखनऊ मुख्यालय बुलाया गया था। सोमवार को लंबी पूछताछ के बाद दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया। 

प्रशांत कुमार ने बताया कि रैकेट में कई और लोगो की शामिल होने की जानकारी है,जांच का दायरा बढ़ाया जा रहा है।

Also Read

उन्होंने बताया कि धर्मांतरण कराने के बाद कई लड़कियों की शादी भी कराई जा चुकी है। इस बीच एटीएस के विशेष एसीजेएम सत्यवीर सिंह ने सोमवार को दोनों आरोपियों को तीन जुलाई तक के लिए जेल भेज दिया। 

अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार के अनुसार उमर का सहयोगी जहांगीर जामियानगर दिल्ली का निवासी है। वह धर्मांतरण के संबंधित प्रमाणपत्र और विवाह के प्रमाण पत्र गैरकानूनी तरीके से बनाता था। एटीएस उमर और संस्था के खातों की जांच कर रही है।

आशीष कुमार शर्मा कानपुर

Law Trendhttps://lawtrend.in/
Legal News Website Providing Latest Judgments of Supreme Court and High Court

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles