ऑक्सीजन की कमी बताकर मरीजों को वापस लौटाने वाले अस्पतालों पर गिरी गाज

प्रयागराज- इलाहाबाद हाई कोर्ट ने राज्य सरकार से ऑक्सीजन की कमी बताकर रोगियों को लौटाने वाले राजधानी लखनऊ के दो अस्पतालों पर कार्यवाई करते हुए रिपोर्ट तलब की है। कोर्ट ने कहा लखनऊ के हर्ष हॉस्पिटल और सन हॉस्पिटल में ऑक्सीजन होने के बाद भी ऑक्सीजन न होने का बहाना बनाकर क्यों लौटाया गया? सरकार ने दोनों अस्पतालों के विरुद्ध क्या ठोस कार्यवाई की है?

जस्टिस सिद्धार्थ वर्मा और जस्टिस अजीत कुमार की पीठ ने मेरठ के हॉस्पिटलों में ऑक्सीजन की कमी से पांच मरीजों की मौत को लेकर डीएम मेरठ के हलफनामे को असंतोषजनक मानते हुए कोर्ट ने डीएम को बेहतर जानकारी के साथ एफिडेविट को दाखिल करने का निर्देश दिया है। 

वहीं केंद्र और राज्य सरकार से कोरोना संक्रमण से पैदा हुए हालात पर आगे की कार्यवाई की जानकारी मांगी। हाई कोर्ट के निर्देश पर राज्य निर्वाचन आयोग ने पंचायत चुनाव मतगणना की सीसीटीवी फुटेज कोर्ट में पेश की।पिछली सुनवाई पर कोर्ट ने लखनऊ,प्रयागराज, वाराणसी, गोरखपुर, गाजियाबाद,मेरठ,गौतमबुद्ध नगर और आगरा में हुई मतगणना की सीसीटीवी फुटेज पेश करने का निर्देश दिया था।

Also Read

शारीरिक अक्षमता वाले नागरिकों के टीकाकरण के लिए दिशनिर्देश पूछे–एडवोकेट रजत राजन सिंह ने कहा कि शारीरिक अक्षमता वाले नागरिकों को टीकाकरण के लिए विशेष सरकारी नीति होनी चाहिए।दुर्भाग्य से उत्तरप्रदेश में इसके लिए गाइडलाइंन नही है। हाई कोर्ट ने इस पर सहमति जताते हुए उत्तरप्रदेश व केंद्र दोनों को अगली तारीफ पर गाइडलाइंन पेश करने के लिए कहा है जिससे शारिरिक अक्षमता वाले नागरिकों का टीकाकरण हो सके।

Download Law Trend App

Law Trendhttps://lawtrend.in/
Legal News Website Providing Latest Judgments of Supreme Court and High Court

Related Articles

Latest Articles