जीवित पत्नी को कागजों में दिया मार, ऐसे हुआ पति की करतूतों का पर्दाफाश

उत्तरप्रदेश–महिलाओं की चूड़ियों के लिए विश्व विख्यात फिरोजाबाद से एक अजीबोगरीब मामला प्रकाश में आया है। जहां पर एक पति ने अपनी पत्नी को कागजों में मृत घोषित कर दिया है। इतना ही नही उसने अपनी पत्नी का फर्जी मृत्यु प्रमाणपत्र बनवाकर कोर्ट में दाखिल कर दिया। पत्नी को इस बात की भनक तब लगी जब मृत्यु प्रमाण पत्र की तस्दीक कराई गई। पीड़ित महिला ने पति के विरुद्ध कड़ी कार्यवाई की मांग की है।

पूरा मामला फिरोजाबाद जनपद के थाना उत्तर क्षेत्र का है। नगला करन सिंह निवासी आशा शर्मा ने पहले पति की मौत उपरांत दूसरी शादी हाथरस निवासी ओमप्रकाश गौतम से वर्ष 2006 में की थी। जिसके बाद दोनों 6 साल तक साथ में रहे। आशा के जब कोई संतान नही हुई तो उसने उसे छोड़ कर दूसरी महिला को अपना लिया। 

आशा ने अपने पति के खिलाफ उत्तर थाना में केस दर्ज करवाया। कोर्ट ने महिला को 5 हजार प्रतिमाह गुजारा भत्ता देने के लिए पति को आदेश दिया। महिला ने अधिक गुजारा भत्ता की राशि को करने के लिए कोर्ट से गुहार लगाई। जिस पर पति ने आशा से छुटकारा पाने के लिए खुर्जा नगर पालिका से फर्जी मृत्यु प्रमाण पत्र बनवा लिया। और इस प्रमाण पत्र को वार्ड संख्या 10 के सभासद से प्रमाणित करवा लिया। इसके बाद फर्जी मृत्यु प्रमाण पत्र को कोर्ट में दाखिल कर दिया। लेकिन जब महिला को पति की इस करतूत का पता चला तो वह हैरान हो गई। महिला ने पति द्वारा फर्जी मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाने का आरोप लगाते हुए कठोर कार्यवाही की मांग की है। 

Download Law Trend App

Law Trendhttps://lawtrend.in/
Legal News Website Providing Latest Judgments of Supreme Court and High Court

Related Articles

Latest Articles